GST Composition Scheme 2023: क्या है, कैसे मिलेगा इसका लाभ, क्या है यह स्कीम ? 

GST Composition Scheme 2023 : नमस्कार दोस्तों, हमारे आज के इस आर्टिकल में तहे दिल से स्वागत है | आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आप सभी को GST Composition Scheme 2023 के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे | जिसमे, हम आप सभी को जीएसटी कंपोजिशन क्या है, कौन से कारोबारी जीएसटी कंपोजिशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, कौन-कौन से विशेष राज्य हैं, लाभ कैसे लिया जा सकता है, टर्नओवर की लिमिट क्या है, किस में टेक्स्ट को किस रेपर देना होता है, इत्यादि के बारे में बताएंगे | इन सभी जानकारियों के बारे में जानने के लिए, आपको इस आर्टिक को अंत तक पढ़ना होगा |

अन्त, आर्टिकल के अन्त में, हम आपको क्विक लिंक्स प्रदान करेगे ताकि आप सभी इसी प्रकार के आर्टिकल्स लगातार प्राप्त कर सकें।

Read Also – CTET Certificate MarkSheet Download 2023: CTET परीक्षा की मार्कशीट और प्रमाणपत्र डाउनलोड यहाँ से करें

दोस्तों Scholarship, Cyber Café, Sarkari Naukari ,Etc से जुडी पल पल की अपडेट के लिए आप हमारे Telegram channel  को जरुर से जरुर Join कर लीजियेगा जिसका लिंक आपको निचे दिया गया है ।

Important Link

Join Telegram

GST Composition Scheme 2023 : संक्षिप्त विवरण 

आर्टिकल का नाम GST Composition Scheme 2023
आर्टिकल  का प्रका Latest Updat
माध्य Onlin
र्टिकल की तिथि 14March-2023 
विभाग का ना CBI (Central Bureau of Investigation )
Official Website  Click Here

GST Composition Scheme 2023

GST Composition Scheme 2023 : के बारे में 

दोस्तों, अगर सालाना आय 1.50 करोड़ रुपए से कम है | और आपका कारोबार अपने ही राज्य में स्थित  और दूसरे राज्य में नहीं होता है, तो GST Composition Scheme का लाभ ले सकते हैं | इस स्कीम को पनाने के बाद आपको प्रति महीने टैक्स रिटर्न फाइल नहीं करना पड़ेगा | और पको अपने लेदेन की रसीद किसी को नहीं देना होगा | पको आपके पूरे, टर्नओवर पर एक निश्चित दर पर करों का भुगतान करना पड़ेगा | और हड़ताल आपको वार्षि रिटर्न दाखिल करना पड़ेगा | इससे आप दैनिक आधार पर क सारे रशिदो को एकत्र करने की परेशानियों से छुटकारा पा सकते हैं और व्यापार की कई अन्य जटिलताओं से राहत मिलता है |  

GST Composition Scheme 2023 : क्या है ?

छोटे-मोटे कारोबारियों को  बार-बार रिटर्न फाइल करने से राहत देने और रसीद को जमा करने के झंझट से बाचने के उद्देश्य से GST Composition Scheme को शुरू किया गया है | 

इस स्कीम के विकल्प को चूनने वाले व्यवसायियों को अपने लेनदेन का विवरण अलग से देना नहीं होगा | अगर आप वस्तुओ (Products) का व्यवसाय करते हैं, तो आपको सिर्फ 1% टैक्स के रूप में देना होता है | अगर आप सेवाओं (services) का व्यापार करते हैं, तो आपको 6% का टैक्स देना पड़ता है | और अगर आप  गैर-मादक रेस्टोरेंट करते हैं, तो आपको 5% का टैक्स देना होता है | साथ ही ईटा व्यवसाय करने पर आपको 6% टैक्स के रूप में देना होता है |

सामान्य श्रेणी के राज्यों में 1.50 करोड़ रुपए अथवा इससे कम सालाना टर्नओवर वाले व्यापार इसके लिए पंजीकरण करवा सकते हैं | विशेष श्रेणी के राज्यों के लिए, इसकी सीमा 75 लाख रुपए या इससे कम साल में काम आने वाले व्यापारी इसके लिए, रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे | सर्विस सेक्टर (Service Provider) में कारोबार करने वाले व्यक्ति कंपोजिशन स्कीम का लाभ तभी प्राप्त कर सकते हैं, जब उनका 1 वर्ष में आय 50 लाख रुपए या उससे कम हो | 

GST Composition Scheme 2023 : कौन-कौन से कारोबारी ले सकेंगे कमपोजिट स्कीम का लाभ 

जीएसटी कंपोजिशन स्कीम को कौन-कौन से कारोबारी अपना सकते हैं | इसके बारे में विस्तृत जानकारी हमने नीचे बिंदुओं के माध्यम से प्रदान की है | जो निम्न प्रकार से हैं-

  • किसी भी सामान्य राज्य के  व्यवसाय करने वाले ऐसे व्यक्ति, जिनका सालाना आय (Annual Turnover) 1.5 करोड़ रुपए से कम हो | जीएसटी कंपोजीशन स्कीम को अपना सकते हैं |
  •  किसी भी विशेष राज्य के व्यवसाय करने वाले ऐसे व्यक्ति, जिनका सालाना आय (Annual Turnover) 75 लाख अथवा इससे कम हो | जीएसटी कंपोजिशन स्कीम को अपना सकते हैं |
  •  सर्विस सेक्टर (Service Provider) में व्यवसाय करने वाले व्यक्ति, जिनका सालाना आय 50  लाख रुपए या उससे कम हो वह सभी जीएसटी कंपोजीशन स्कीम को अपना सकते हैं |

GST Composition Scheme 2023 : विशेष राज्यों की सूची 

दोस्तों, ऊपर हमने आप सभी को सामान्य और विशेष राज्यों के कारोबारियों के जीएसटी कंपोजिशन कोई प्रयोग करने वाले के बारे में बताया है | नीचे हमने आपको विशेष राज्यों की सूची प्रदान की है |  जो निम्न प्रकार से हैं-

  • असम (Assam)
  • अरूणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh)
  • जम्मू-कश्मीर (jammu-kashmir)
  • मेघालय (Meghalaya)
  • मणिपुर (Manipur)
  • मिजोरम (mizoram)
  • नागालैंड (Nagaland)
  • सिक्किम (Sikkim)
  • त्रिपुरा (Tripura)
  • हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) एवं
  • उत्तराखंड (uttarakhand)

GST Composition Scheme 2023 : कैसे लिया जा सकता है ?

इस योजना के अंतर्गत आने वाला कोई भी व्यापारी नए वित्तीय वर्ष (Financial Year), शुरू होने से पहले इस योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है | इसके लिए आपको सिर्फ, जीएसटी पोर्टल (GST Portal) पर लॉग इन करना पड़ेगा और GST CMP-02 Form को जमा करना पड़ेगा |

इसके बाद कंपोजीशन स्कीम को जारी रखने के लिए प्रत्येक वित्तीय वर्ष के शुरुआत में आपको इस प्रक्रिया को शुरू पूरा करना पड़ेगा | आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि GST Composition Scheme 2023 को किसी वित्तीय वर्ष के बीच में नहीं लिया जा सकता है,  परंतु इसे  छोरा आवश्य जा सकता है |

  • GST Composition Scheme का चयन करने वाले व्यक्ति को प्रत्येक नोटिस पर कंपोजीशन  टैक्सेबल व्यक्ति (Composition Taxable Person) का उल्लेख करना होता है | 
  • GST Composition Scheme का चयन करने वाले व्यक्ति अपने साइन बोर्ड (Sign Board) पर प्रमुखता से लिखना पड़ेगा | 
  • GST Composition Scheme का विकल्प चुनने वाले व्यक्ति के द्वारा जारी, रसीद पर भी कंपोजीशन  टैक्सेबल व्यक्ति (Composition Taxable Person) पर्सन लिखना पड़ेगा |

GST Composition Scheme 2023 : के लिए सालाना आय की लिमिट क्या है ?

GST Composition Scheme इस सालाना आय की लिमिट इस प्रकार से है- 

सामान्य (General) कैटेगरी के राज्यों के कारोबारियों के लिए 1.5 करोड़ रुपए
विशेष (Special) कैटेगरी के राज्यों के कारोबारियों के लिए 75 लाख रुपए
सिर्फ सेवाक्षेत्र (Service Sector) का कारोबार होने पर 50 लाख रुपए

GST Composition Scheme 2023 : टैक्स किस रेट पर देना होता है ? 

बिजनेस का प्रकार CGST SGST कुल देय GST
वस्तुओं/ सामान का उत्पादन तथा व्यापार करने वाले कारोबारी 0.5% 0.5% 1%
बिना शराब के रेस्टोरेंट चलाने वाले कारोबारी 2.5% 2.5% 5%
सेवाक्षेत्र में कारोबार करने वाले (Service Providers) 3% 3% 6%
ईंटों के निर्माता (Manufacturers of bricks) 3% 3% 6%

GST Composition Scheme 2023 : इस स्कीम को कैसे छोड़ा जा सकता है ? 

दोस्तों आप सभी की जानकारी के लिए बता दें, कि किसी भी वित्तीय वर्ष में आप अपनी मर्जी के अनुसार इस योजना से बाहोहर निकल सकते हैं | जिस दिन भी आप इस GST Composition Scheme से बाहर निकलेंगे | उस दिन से नए नियम आप के कारोबार पर सामान्य जीएसटी की तरह लागू  जाएंगे | 

जैसे, कि अगर कोई कारोबारी 15 अप्रैल 2023 को इस योजना से बाहर निकलने का फैसला लेता है | तो उसे GST  संरचना के अंतर्गत अंतिम तिमाही अर्थात 31 मार्च 2023 के लिए तिमाही रिटर्न को भरना पड़ेगा | और साथ ही 15 अप्रैल तक के 15 दिनों का टैक्स भी भरना पड़ेगा | 

अन्त, आर्टिकल के अन्त में, हम आपको क्विक लिंक्स प्रदान करेगे ताकि आप सभी आसानी से इसी प्रकार के आर्टिकल्स को प्राप्त कर सकें।

Read Also – Indiabulls Home Loan Kaise Le: पूरा घर बनाने के लिए मिलेगा 90% लोन जाने संपूर्ण आवेदन प्रक्रिया 

GST Composition Scheme 2023 : कौन से कारोबारी  जीएसटी कंपोजिशन स्कीम के अंतर्गत नहीं आते हैं?

हमने आप सभी को बताया है, कि कौन-कौन से कारोबारी इस GST Composition Scheme के अंतर्गत नहीं आते हैं ? उनका विवरण इस प्रकार से है- 

  • ई-कॉमर्स कंपनियों (e-Commerce Companies) के सहारे बिजनेस कर रहे बिजनेस मैन, इस योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं |
  •  सरकार की तरफ से बीमा एजेंट, परिवहन एजेंसियां, पान मसाला, तंबाकू, इत्यादि अधिसूचित मदों में व्यवसाय करने वाले व्यक्ति, इस योजना के अंतर्गत नहीं आते हैं |
  •  अपने राज्य से बाहर व्यवसाय कर रहे व्यवसाई व्यक्ति | 
  •  कैजुअल टैक्सेबल और non-resident टैक्सेबल के श्रेणी में आने वाले बिजनेसमैन अर्थात जो भारत  में टैक्स नहीं भरते हैं | वे इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते है |
  • GST  के अंतर्गत TDS और TCS कटने के हकदार व्यक्ति,  इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं | 

GST Composition Scheme 2023 : इस योजना से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बिंदु 

दोस्तों, अब हम आपको इस योजना से जुड़े सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं के बारे में संक्षेप में बता रहे हैं | जो निम्न प्रकार से है- 

  • 1.5 करोड़ रुपए प्रति वर्ष अर्जित करने वाले व्यवसाई व्यक्ति, इस योजना का विकल्प चुन सकते हैं |
  • सेवा क्षेत्र से जुड़े व्यक्तियों के लिए, यह सीमा 50 लाख रुपए है | 
  •  वार्षिक रिटर्न GSTR-4 को प्रत्येक वित्तीय वर्ष के समाप्त होने के बाद भरना होता है |
  •  योजना को वित्तीय वर्ष समाप्त होने से पहले अपनाना होता है, और इसे कभी भी छोरा जा सकता है |
  • इसके अंतर्गत सामान की बिक्री होने पर, टैक्स नहीं वसूला जाता है |
  • अंतर राज्य व्यापारी और ई-कॉमर्स से जुड़े व्यापारी, इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं |
  •  सरकार के द्वारा अनुसूचित माल और सेवाओं वाले व्यापारी इस योजना का विकल्प नहीं चुन पाएंगे |

Important Link

महत्वपूर्ण लिंक

Log in Click Here
Join Our Telegram Group  Click Here 
Official Website  Click Here

सारांश :-दोस्तों, आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आप सभी को GST Composition Scheme 2023 के बारे में विस्तार पूर्वक बताया है । जिसमें हमने आप सभी को इस योजना से जुड़ी सारी जानकारियां, जैसे- जीएसटी कंपोजिशन क्या है, कौन से कारोबारी जीएसटी कंपोजिशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं, कौन-कौन से विशेष राज्य हैं, लाभ कैसे लिया जा सकता है,  टर्नओवर की लिमिट क्या है, किस में टेक्स्ट को किस रेट पर देना होता है, और भी महत्वपूर्ण जानकारियों को विस्तार पूर्वक बताया है | अगर आप को दी गई जानकारी पसंद आई हो, तो इसे अपने दोस्तों और फैमिली मेंबर्स के साथ शेयर अवश्य करें | 

FAQ’s:- GST Composition Scheme 2023

Q1.  GST Composition Scheme 2023 से जुरे सभी प्रश्नों के उत्तर कैसे मिलेंगे ?

Ans- निचे दिए गये लिंक पर क्लिक करके आप आसानी के इस योजना से जुरे सभी प्रश्नों के उत्तर मिल जायेंगे | Click Here

 

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम आपतक सबसे पहले अपने इस Website के माधयम से पहुँचआते रहेंगे Sarkariinformation.com, तो आप हमारे Website को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Share जरूर करें

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद,,,

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकॉन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जुड़ सकते हैं जिससे आने वाली नई योजना की जानकारी आप तक पहुंच सके |

Join Job And News Update

For Telegram For Twitter
FaceBook Instagram
For Website For YouTube

Leave a Comment